खामोशी पहचाने कौन 4

मैं उसकी परछाई हूँ या
वो मेरा आईना है
मेरे ही घर में रहता है
मेरे जैसा जाने कौन ।

निदा फाज़ली

Leave a Reply