मगर पराया है 2

उतर भी आओ कभी आसमाँ के ज़ीने से,
तुम्हें ख़ुदा ने हमारे लिए बनाया है|

बशीर बद्र

Leave a Reply