कच्ची दीवार हूं 3

बात करने में जो मुश्किल हो तुम्हे महफिल में,
मैं समझ जाऊंगा नज़रों से बताना मुझको।

असरार अंसारी

Leave a Reply