आवारगी 1

अंदाज़ अपने देखते हैं आईने में वो
और ये भी देखते हैं कि कोई देखता न हो।

मोहसिन नक़वी

Leave a Reply