चाहत में उनकी, ख़ुदा को भुला दें!

अगर ख़ुद को भूले तो, कुछ भी न भूले,
कि चाहत में उनकी, ख़ुदा को भुला दें|

सुदर्शन फ़ाकिर

Leave a Reply

%d bloggers like this: