सारे जहाँ को है मालूम!

वो मेरा दोस्त है सारे जहाँ को है मालूम,
दग़ा करे वो किसी से तो शर्म आये मुझे।

क़तील शिफ़ाई

Leave a Reply

%d bloggers like this: