पत्थर भी है खुदा भी है!

मैं पूजता हूँ जिसे, उससे बेनियाज़ भी हूँ,
मेरी नज़र में वो पत्थर भी है खुदा भी है|

राहत इन्दौरी

2 Comments

Leave a Reply