अँगूठे-सा दंग हूँ!

ये किसका दस्तख़त है, बताए कोई मुझे,
मैं अपना नाम लिख के अँगूठे-सा दंग हूँ |

सूर्यभानु गुप्त

Leave a Reply