अरमान मेरे दिल का—

आँखें मुझे तल्वों से वो मलने नहीं देते,
अरमान मेरे दिल का निकलने नहीं देते|

अकबर इलाहाबादी

Leave a Reply