मोतियों वाले मौसम!

यूँ लुटाते न फिरो मोतियों वाले मौसम,
ये नगीने तो हैं रातों को सजाने के लिए|

निदा फ़ाज़ली

Leave a Reply