कर दिया तूने अगर–

ख़ुद को मैं बांट न डालूं कहीं दामन-दामन,
कर दिया तूने अगर मेरे हवाले मुझको|

क़तील शिफ़ाई

Leave a Reply