समझाने लगे हैं!

वो सलीबों के क़रीब आए तो हमको,
क़ायदे-क़ानून समझाने लगे हैं|

दुष्यंत कुमार

Leave a Reply