मौत से यारी रखो!

एक ही नद्दी के हैं ये दो किनारे दोस्तो,
दोस्ताना ज़िंदगी से, मौत से यारी रखो|

राहत इन्दौरी

Leave a Reply