प्रीत अमर कर दो!

होंठों से छू लो तुम,
मेरा गीत अमर कर दो|
बन जाओ मीत मेरे,
मेरी प्रीत अमर कर दो|

इंदीवर

2 Comments

Leave a Reply