मैं देवता की तरह क़ैद!

मैं देवता की तरह क़ैद अपने मंदिर में,
वो मेरे जिस्म के बाहर मेरी तलाश में है|

कृष्ण बिहारी ‘नूर’

Leave a Reply