तेरे अबरू तेरे लब!

तेरी ज़ुल्फ़ें तेरी आँखें तेरे अबरू तेरे लब,
अब भी मशहूर हैं दुनिया में मिसालों की तरह|

जां निसार अख़्तर

Leave a Reply