नींद तो दर्द के बिस्तर पे भी आ सकती है!

नींद तो दर्द के बिस्तर पे भी आ सकती है,
उनकी आग़ोश में सर हो ये ज़रूरी तो नहीं |

ख़ामोश ग़ाज़ीपुरी

2 Comments

Leave a Reply