उसके ख़यालों में खो सा जाता हूँ!

मैं जब भी उसके ख़यालों में खो सा जाता हूँ,
वो ख़ुद भी बात करे तो बुरा लगे है मुझे|

जां निसार अख़्तर

Leave a Reply