जोड़ दूंगा उसे!

कहीं अकेले में मिलकर झिंझोड़ दूँगा उसे,
जहां जहां से वो टूटा है जोड़ दूंगा उसे|

राहत इन्दौरी

Leave a Reply