गले मिलिए तो-

गले मिलिए तो कट जाती हैं जेबें,
बड़ी उथली यहां गहराइयां हैं|

सूर्यभानु गुप्त

Leave a Reply