अब घर से कम निकलते हैं!

वो है जान अब हर एक महफ़िल की,
हम भी अब घर से कम निकलते हैं|

जॉन एलिया

Leave a Reply