ढूंढता है वह पहला सा ऐतबार!

क्यों मुझमें ढूंढता है वह पहला सा ऐतबार,
जब उसकी ज़िन्दगी में कोई और आ गया|

वसीम बरेलवी

Leave a Reply