पागल दिल का मचलना जारी है!

जाने कितनी बार ये टूटा, जाने कितनी बार लुटा,
फिर भी सीने में इस पागल दिल का मचलना जारी है|

राजेश रेड्डी

2 Comments

Leave a Reply