वहाँ मझधार होगा!

समझ जाते हैं दरिया के मुसाफ़िर,
जहाँ में हूँ वहाँ मझधार होगा|

राजेश रेड्डी

Leave a Reply