सियासत से तबाही का!

बड़ा गहरा तअल्लुक़ है सियासत से तबाही का,
कोई भी शहर जलता है तो दिल्ली मुस्कुराती है|

मुनव्वर राना

Leave a Reply