कौन से ऊँचे घराने वाले थे!

उन्हें तो ख़ाक में मिलना ही था कि मेरे थे,
ये अश्क कौन से ऊँचे घराने वाले थे|

वसीम बरेलवी

Leave a Reply