गुम हो गया हूँ मैं!

ऊपर के चेहरे-मोहरे से धोखा न खाइए,
मेरी तलाश कीजिए, गुम हो गया हूँ मैं|

निदा फ़ाज़ली

Leave a Reply