कहानीकार हो ऐसा नहीं होता!

कहानी में तो किरदारों को जो चाहे बना दीजे,
हक़ीक़त भी कहानीकार हो ऐसा नहीं होता|

निदा फ़ाज़ली

Leave a Reply