आग का दरिया मुझे!

उसको आईना बनाया, धूप का चेहरा मुझे,
रास्ता फूलों का सबको, आग का दरिया मुझे|

बशीर बद्र

Leave a Reply