बुत को खुदा मैंने किया!

संगदिल है वो तो क्यूं इसका गिला मैंने किया,
जबकि खुद पत्थर को बुत, बुत को खुदा मैंने किया|

अहमद फ़राज़

Leave a Reply