वो वहाँ पर नहीं रहा!

वापस न जा वहाँ कि तेरे शहर में ‘मुनीर’,
जो जिस जगह पे था वो वहाँ पर नहीं रहा|

मुनीर नियाज़ी

Leave a Reply