उस हाल में जीना लाज़िम है!

वह मर्द नहीं जो डर जाए, माहौल के ख़ूनी मंज़र से,
उस हाल में जीना लाज़िम है, जिस हाल में जीना मुश्किल है|

अर्श मलसियानी

Leave a Reply