हो गयी वो नज़र सयानी भी!

अपनी मासूमियों के पर्दे में
हो गयी वो नज़र सयानी भी।

फ़िराक़ गोरखपुरी

Leave a Reply