मेरी आँख में आना नहीं आता!

ढूँढे है तो पलकों पे चमकने के बहाने,
आँसू को मेरी आँख में आना नहीं आता|

वसीम बरेलवी

2 Comments

Leave a Reply