रंग मेरे हाथ का हिनाई हो!

हथेलियों की दुआ फूल ले के आई हो,
कभी तो रंग मेरे हाथ का हिनाई हो|

परवीन शाकिर

Leave a Reply