हर मोड़ बहाना है!

क्या जाने कोई किस पर, किस मोड़ पर क्या बीते,
इस राह में ऎ राही हर मोड़ बहाना है|

साहिर लुधियानवी

2 Comments

Leave a Reply