दिखाने का तड़पना नहीं आता!

दुख जाता है जब दिल तो उबल पड़ते हैं आँसू,
‘मुल्ला’ को दिखाने का तड़पना नहीं आता|

आनंद नारायण मुल्ला

Leave a Reply