उसे आज तक ये पता नहीं!

सर-ए-राह कुछ भी कहा नहीं कभी उस के घर मैं गया नहीं,
मैं जनम जनम से उसी का हूँ उसे आज तक ये पता नहीं|

बशीर बद्र

Leave a Reply