वो मलाल में मिला मुझे!

गया तो इस तरह गया कि मुद्दतों नहीं मिला,
मिला जो फिर तो यूँ कि वो मलाल में मिला मुझे|

मुनीर नियाज़ी

Leave a Reply