फिर से जुड़ा नहीं करते!

ये आइनों की तरह देख-भाल चाहते हैं,
कि दिल भी टूटें तो फिर से जुड़ा नहीं करते|

अमजद इस्लाम अमजद

Leave a Reply