गुज़रता है गुज़र जाएगा!

आँख से दूर न हो दिल से उतर जाएगा,
वक़्त का क्या है गुज़रता है गुज़र जाएगा|

अहमद फ़राज़

Leave a Reply