ख़ुद को उससे आधा कर लिया!

ग़ैर से नफ़रत जो पाली ख़र्च ख़ुद पर हो गई,
जितने हम थे हमने ख़ुद को उससे आधा कर लिया|

मुनीर नियाज़ी

Leave a Reply