वो आपका गुलनार हो जाना!

ख़फ़ा होना ज़रा सी बात पर तलवार हो जाना,
मगर फिर ख़ुद-ब-ख़ुद वो आपका गुलनार हो जाना|

मुनव्वर राना

Leave a Reply