अजीब शर्त है दीदार के लिए!

कैसी अजीब शर्त है दीदार के लिए,
आँखें जो बंद हों तो वो जल्वा दिखाई दे|

कृष्ण बिहारी नूर

Leave a Reply