रास्ते में सितारे लुटाएँ हम!

तू इतनी दिल-ज़दा तो न थी ऐ शब-ए-फ़िराक़,
आ तेरे रास्ते में सितारे लुटाएँ हम|

अहमद फ़राज़

Leave a Reply