दर अपना ही खटखटा रहा हूँ!

मुमकिन है जवाब दे उदासी,
दर अपना ही खटखटा रहा हूँ|

क़तील शिफ़ाई

Leave a Reply