बस आसमान बाक़ी है!

जितनी बटनी थी बट चुकी ये ज़मीं,
अब तो बस आसमान बाक़ी है|

राजेश रेड्डी

Leave a Reply