कोई इम्तिहान बाक़ी है!

अभी ज़मीर में थोड़ी सी जान बाक़ी है,
अभी हमारा कोई इम्तिहान बाक़ी है|

जावेद अख़्तर

Leave a Reply