इशारों ने भी दिल तोड़ दिया है!

किस तरह करें तुझ से गिला तेरे सितम का,
मदहोश इशारों ने भी दिल तोड़ दिया है|

महेश चंद्र नक़्श

Leave a Reply