प्यास के फूँके हुए ये वीराने!

यहाँ से जल्द गुज़र जाओ क़ाफ़िले वालो,
हैं मेरी प्यास के फूँके हुए ये वीराने|

कैफ़ी आज़मी

Leave a Reply